कुल पेज दृश्य

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

शुक्रवार, 23 अगस्त 2013

DR. PRARTHANA PANDIT: 3 sher

DR. PRARTHANA PANDIT: 3 sher:

आपकी बात मान ली मैंने
 जाने क्यू रार ठान ली मैंने ,
 सच ही कहना कहाँ मुनासिब था
 जाने कितनो की जान ली मैंने,
 रात ने ढल के दोबारा ...